मुझसे चूत मरवाई तो मै सब भूल बैठा


Antarvasna, kamukta: मेरे और काव्या के रिश्ते के बारे में काव्या के घर में भी सब को पता था क्योंकि काव्या ने अपने घर में मेरे बारे में सब को सब कुछ बता दिया था। काव्या चाहती थी कि मैं और काव्या जल्द से जल्द शादी कर ले लेकिन मैं अभी भी अपने जीवन में कुछ कर नहीं पाया था इसलिए मुझे थोड़ा समय चाहिए था और हम दोनों के रिलेशन को करीब 5 वर्ष बीत चुके थे। इन 5 वर्षों में मैं कुछ भी नहीं कर पाया था काव्या और मेरे बीच दिन ब दिन इस बात को लेकर झगड़े होने लगे थे और काव्य मुझे कहती कि रोहित तुम कुछ कर क्यों नहीं लेते लेकिन मेरे भी अपने कुछ सपने थे जिन्हें मैं पूरा करना चाहता था और उन सपनों को पूरा करने के लिए ना जाने मैंने क्या कुछ नहीं किया परंतु मुझे कोई भी रास्ता नजर नहीं आया जिससे कि मैं कुछ कर पाता। मैंने एक छोटी कंपनी में नौकरी करने का फैसला कर लिया और मैं नौकरी करने लगा लेकिन इस बात से काव्या बिल्कुल भी खुश नहीं थी काव्या चाहती थी कि मैं किसी अच्छी कंपनी में नौकरी करूं।

मेरे पास भी और कोई रास्ता नहीं था पिताजी और घर का दबाव मुझ पर था और मुझे एक छोटी कंपनी में नौकरी करनी पड़ी लेकिन काव्या और मेरे बीच दूरियां बढ़ती जा रही थी काव्या चाहती थी कि मैं जल्द से जल्द शादी कर लूँ परंतु मैंने काव्या को मना कर दिया। काव्या कहने लगी कि रोहित यदि तुम मुझसे शादी नहीं करोगे तो मुझे कुछ और सोचना पड़ेगा काव्या कहने लगी मेरी उम्र अब निकलती जा रही है मैं 28 वर्ष की हो चुकी हूं। मैंने काव्या को कहा काव्या मुझे सिर्फ एक वर्ष का टाइम चाहिए तो काव्या कहने लगी कि पिछले कई वर्षों से तुम मुझसे यही कहते आ रहे हो लेकिन अभी तक तुम अपनी जिंदगी में कुछ कर नहीं पाए हो और मुझे नहीं लगता कि अब तुम अपनी जिंदगी में कुछ कर भी पाओगे इससे बेहतर यही होगा कि हम दोनों एक दूसरे की जिंदगी से दूर चले जाएं जो हमारी जिंदगी के लिए भी ठीक रहेगा। मैं और काव्या एक दूसरे से अब कम ही बात किया करते थे हम दोनों के बीच दूरियां दिन-ब-दिन बढ़ती ही जा रही थी। इसी बीच काव्या के भैया मुझे मिले और वह मुझे कहने लगे कि देखो रोहित हमारे घर में तुम्हारे और काव्या के बारे में सबको मालूम है लेकिन तुम्हें कुछ करना पड़ेगा।

काव्या के भैया अपनी जगह बिल्कुल सही थे उन्होंने मुझे काफी समझाया और कहा कि यदि तुम कुछ नहीं करोगे तो हमें काव्या की शादी किसी और से करवानी पड़ेगी। काव्या और मेरे बीच बहुत ही ज्यादा प्यार है लेकिन मुझे भी अब यह एहसास हो गया था कि मुझे कुछ करना पड़ेगा और फिर मैंने अपने दोस्त से मदद मांगी मैंने उससे कहा कि मैं चाहता हूं कि जल्द से जल्द मैं कुछ पैसे कमा लूं ताकि मैं काव्या से शादी कर पाऊं। वह मुझे कहने लगा कि रोहित तुम कहो तो मैं तुम्हारा वीजा लगवा देता हूं, मेरा दोस्त इंग्लैंड में रहता है और उसने मुझे कहा यदि तुम मेरे साथ चलो तो तुम वहां पर जॉब भी कर सकते हो और तुम्हें उसके बदले अच्छे पैसे भी मिल जाएंगे। मैंने अपने दोस्त से कहा मैं तुम्हारे साथ आने के लिए तैयार हूं इस बीच मैं काव्या को फोन करता रहा लेकिन काव्या ने मेरा फोन नहीं उठाया। मैं अब इंग्लैंड पहुंच चुका था इंग्लैंड पहुंचने के काफी समय तक मेरी काव्या से कोई बात नहीं हो पाई काव्या को शायद यह लगा कि अब हम लोग कभी मिल नहीं पाएंगे इसलिए काव्या ने अपनी सगाई का फैसला कर लिया। एक दिन मैंने काव्या को जब फोन किया तो काव्या ने मुझे बताया कि उसकी सगाई हो चुकी है मैंने काव्या को कहा मैंने तुमसे कहा था कि मैं जल्दी कुछ ना कुछ कर लूंगा और इस बीच तुम्हारा फोन लगा ही नहीं और मैं इंग्लैंड आ गया। काव्या ने मुझे कहा देखो रोहित अब मेरी सगाई हो चुकी है और हम दोनों अब एक दूसरे को भूल जाए यही बेहतर होगा। मैं इस बात से बहुत दुखी हुआ और मैं उस दिन घर पर ही था मेरा दोस्त जब शाम के वक्त अपने ऑफिस से घर लौटा तो वह मुझे कहने लगा कि रोहित तुम काम पर नहीं गए। मैंने अपने दोस्त को कहा आज मैं काम पर नहीं जा पाया क्योंकि आज मेरी काव्या से बात हुई तो काव्या ने मुझे बताया कि उसने सगाई कर ली है इस बात से मैं बहुत ज्यादा परेशान हो गया। वह मेरे और काव्या के बारे में जानता था इसलिए उसने कहा कि देखो तुम जब घर जाओगे तो काव्या को इस बारे में समझाने की कोशिश करना। मैंने भी सोचा कि वह बिल्कुल ठीक कह रहा है और मैं अपने काम पर ध्यान देने लगा लेकिन अब बात बहुत ज्यादा आगे बढ़ चुकी थी मैं जब भी काव्या को फोन करता हूं तो काव्या मेरा फोन नहीं उठाती।

मैंने उसे काफी बार फोन किया परंतु उसने मेरे फोन का कोई उत्तर नहीं दिया मैं बहुत ही ज्यादा परेशान होने लगा था। मुझे छै महीने इंग्लैंड में हो चुके थे और छै महीने काम करने के बाद जब मैं वापस अपने शहर लौटा तो मेरे लिए सब कुछ बदला हुआ था। काव्या मेरा फोन नहीं उठा रही थी मैंने काव्या को बहुत मैसेज भी भेजे लेकिन उसके बावजूद भी उसने मेरे मैसेज का कोई जवाब नहीं दिया और ना ही वह मुझसे मिलना चाहती थी। मैं जब काव्या के घर पर गया तो काव्या उस दिन घर पर ही थी काव्या ने मुझे देखते ही अपना रास्ता बदलने की कोशिश की लेकिन मैंने काव्या को रोका और कहा कि मुझे तुमसे कुछ जरूरी बात करनी है। काव्या मुझसे कहने लगी कि कहो तुम्हें क्या कहना है मैंने उसे कहा मैं तुमसे अकेले में बात करना चाहता हूं काव्या कहने लगी कि तुम यहीं बात कर लो लेकिन मैंने उसे कहा कि मुझे तुमसे अकेले में बात करनी है।

काव्या के घर के बाहर ही एक पार्क है हम लोग वहां पर बैठकर एक दूसरे से बात करने लगे मैंने काव्या को सारी बात समझाई लेकिन काव्या कहने लगी कि देखो रोहित अब बहुत देर हो चुकी है और मैं यह सगाई नहीं तोड़ सकती। मैंने काव्य को कहा काव्या इसमें मेरी गलती नहीं है तुमने हीं तो मुझे कहा था कि तुम अपनी जिंदगी में कुछ कर लो उसी के लिए तो मैं इंग्लैंड चला गया और उस बीच मैंने तुम्हें कई बार फोन किया लेकिन तुमने मेरा फोन ही नहीं उठाया। काव्या कहने लगी देखो रोहित अब तुम इस बारे में भूल जाओ थोड़ी देर बाद काव्या ने मुझसे कहा कि मैं अब घर जा रही हूं यह कहते हुए वह घर चली गई। मुझे अभी भी इस बात का कुछ अंदाजा नहीं था कि काव्या मुझसे दूरी क्यों बना रही है लेकिन जब काव्या की सहेली ममता ने मुझे इस बारे में बताया तो मेरे पैरों तले से जमीन खिसक गई। काव्या की सहेली ने मुझे कहा कि वह तुम्हें छोड़ना चाहती है और अब उसने तुमसे दूरी बनाने की कोशिश कर ली है इसीलिए तो उसने सगाई कर ली। मैं इस बात से बहुत टूट चुका था मेरे तो कुछ समझ में हीं नही आ रहा था कि ऐसी स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए। मैं बहुत ज्यादा परेशान हो चुका था लेकिन उसी बीच मुझे ममता ने सहारा दिया ममता काव्य की दोस्त है और ममता का साथ पाकर मैं बहुत खुश था। काव्या ने मेरे साथ बहुत गलत किया उसने जो मेरे साथ किया वह बिल्कुल भी ठीक नहीं था लेकिन ममता अब मेरा साथ देने के लिए तैयार थी हम दोनों की नजदीकियां बढ़ती चली गई। हम दोनों एक दूसरे को मिलने लगे थे थोड़े समय बाद ममता और मेरे बीच में शारीरिक संबंध बन गए वह मेरे घर पर आई हुई थी और मेरे घर पर कोई भी नहीं था। ममता और मैं एक दूसरे की बाहों मे थे ममता के होठो को मैंने चूम लिया ममता मेरी गोद में बैठ चुकी थी। ममता की चूत से पानी निकलने लगा था और ममता के होठों से मैंने खून निकाल दिया था वह अपने आपको बिल्कुल भी रोक ना सकी।

वह मुझे कहने लगी मैं अपने आपको रोक नहीं पा रही हूं मैंने उसके कपड़े उतारकर उसके बूब्स को अपने मुंह में लेना शुरू किया और बहुत देर तक मैं ममता के बूब्स को अपने मुंह में लेकर चूसता रहा मुझे उसके बूब्स को अपने मुंह में लेकर चूसने में बड़ा आनंद आ रहा था और काफी देर तक यह सिलसिला चलता रहा। अब हम दोनों इतने ज्यादा उत्तेजित हो गए थे कि मैंने अपने लंड को बाहर निकाला तो उसे ममता ने अपने मुंह में ले लिया हालांकि पहले वह इस बात के लिए इंकार कर रही थी लेकिन मैंने उसे इस बात के लिए तैयार किया और उसमें मेरे मोटे लंड को अपने मुंह के अंदर समा लिया उसे बड़ा ही मजा आया जिस प्रकार से उसने मेरा साथ दिया। उससे मैं बहुत ज्यादा खुश हो गया था यह सिलसिला चलता जा रहा था हम दोनों एक दूसरे की बाहों में थे मैंने ममता की चूत को चाटना शुरू किया और उसकी चूत से पानी निकाल कर रख दिया। मैंने जैसे ही उसकी चूत के अंदर अपने लंड को घुसाया तो वह कहने लगी तुम्हारा लंड बड़ा ही मोटा है उसकी चूत से खून निकल चुका था और उसकी चूत से इतना ज्यादा खून निकल चुका था कि मैं उसे लगातार तेजी से धक्के मार रहा था लेकिन मुझे उसे चोदने में बहुत मजा आ रहा था।

ममता मुझे कहने लगी मुझे तुम अपनी गोदी में उठा कर चोदो मैंने उसे अपनी गोदी में उठा लिया और मैं उसे धक्के मारने लगा। वह भी अपनी चूतडो को ऊपर नीचे करने की कोशिश कर रही थी वह मेरे होठों को चूम रही थी मुझे बड़ा आनंद आ रहा था। जिस तरह से हम दोनों सेक्स का मजा ले रहे थे उससे हम दोनों ही पूरी तरीके से खुश नजर आ रहे थे मैंने उसे अपने बिस्तर पर लेटाया और मैंने उसे चोदना शुरू किया। उसका शरीर हिलने लगा मैं उसके स्तनों को चाट रहा था मै उसके स्तनों को चूसता तो वह और भी ज्यादा उत्तेजित हो जाती। उसके बदन की गर्मी अब बढ़ती ही जा रही थी हम दोनों एक दूसरे के बदन की गर्मी को झेल नहीं पा रहे थे और जैसे ही मेरा वीर्य बाहर की तरफ आने वाला था तो मैंने अपने लंड को बाहर निकाला और उसे ममता ने अपने मुंह में समा लिया। ममता ने अपने मुंह में मेरे लंड को लेकर उसे बहुत देर तक चूसा जैसे ही उसने मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर लिया तो मैं बड़ा खुश हो गया और काव्या का ख्याल मैंने अपने दिमाग से निकाल दिया था। ममता ही मेरी जिंदगी मे सब कुछ है ममता ने मेरी बहुत मदद की। मैं काव्या को भूल चुका हूं ममता के साथ मै जिंदगी अच्छे से बिताने की पूरी कोशिश कर रहा हूं।


error:

Online porn video at mobile phone


bhai bahan ki chudai ki kahani in hindididi ne chudai kidesi bhai bahanchudai hi chudaimaa beta antarvasnahindisexystoriesचुतसेकसिकहानीraand ki chudai ki kahanimeri maa ki chudai storygirl ki chudai ki kahanimami ki sexy storieshot sex hindi kahanihindi chut landरोमांटीक भाइ बहन कीचुदाई की कहानीलंड डाल दिया दूध मेंxnxx bhabi devarhindi bhabi sex storypati ke samne chudainxnn hindihd hindi xxbadi didiyo ko chote bhai ne chudai ki storybahan ko choda ki chudaisuhagrat beddesi bhabi saxhindi pron sexchuchi bhabhi kilund chut kahanibhabhi sang chudaibhabhi ki choot ke photogaand ka chedbhai aur behan ki chudaiindian sexy chudaihindi indian pornmere bhosada ko land milechut kahani with photosexy brothernew hindi storyhow to sex with sistermedam ki chudai storybhai bahan sex story in hindiSex in hindi bua aur bhatijaladke ke gand ka fotosexy stoymarathi lesbian storyhindi sexx storiesnap in hindiland chut ki kahanibhabhi chudai kahani hindisex story with bhabhi in hindisex khani hindemaa sex beta kahani hindichut lendchachi ko choda sex storydesi school sexaurat ki chudai ki kahanibhabhi chut picbaap se chudigroup sex storiesmaa ki chudai hindi me kahanimoti gand chachi gand sex story hindisasur bahu ki chudai in hindinew adult kahaniwww hot sister comhousewife sex storieschudai ki sachi kahani hindiwali chutfast night saxindian hard fuck sexchut me gadhe ka landbete ne maa ki chudai ki kahanisexistoryhindidevar bhabhi sex in hindimeri chikni chutchudakkarindian hindi font sex storiesjija sali chudae kahanidehati hindibade land se chudaisexistoryJangle me chuti land ki story hindi6 ईचं का लौडा लेकर डाला चुत मे xxx vebiobf chutchodne ki kahanigova xxxbaap ne beti ke shath jabrdasthi sexyi kahaniaunty ke sath sexAntarvasna maa semester ke bad